1

गन्ने उगाने वाले खेत में ह्यूमिक एसिड (humic acid)क्यों जरूरी है? /Humic Acid for Sugercane

गन्ने उगाने वाले खेत में ह्यूमिक एसिड (humic acid)क्यों जरूरी है ? /Humic Acid for Sugercane
मिट्टी को उपजाऊ बनाए रखने तथा फसल के उत्पादन को बढ़ाने में जैविक उवर्रक की अहम भूमिका है। (humic acid uses in agriculture) जैविक उवर्रक में हृमिक एसिड शीर्ष पर है। ह्यूमिक एसिड का नाम सुनते ही ऐसा लगता है जैसे यह कोई केमिकल या एसिड होगा जो हमारे फसल को नुकसान पहुंचाएगा लेकिन ये जैविक है। (humic acid supplement) जापानी कंपनी सुमिटोमो केमिकल का लाटू (sumitomo laatu) एक बेहतरीन जैविक उवर्रक (organic fertilizer) है .

ह्यूमिक एसिड क्या है ?
ह्यूमिक एसिड खदान से उत्पन्न एक बहुपयोगी खनिज है. इसे सामान्य भाषा में मिट्टी का कंडीशनर कहा जा सकता है. जोकि बंजर भूमि भी उपजाऊ बनाता है. मिट्टी की संरचना को सुधारकर उसे नया जीवनदान देता है. बाजार में यह तरह-तरह के नामों से बिकता है तथा यह पानी में अघुलनशील होता है. बाजार में जो ह्यूमिक एसिड मिलता है वो पोटेशियम हृमेट है. जोकि ह्यूमिक एसिड पर कास्टिक पोटाश की क्रिया द्वारा बनाया जाता है. फसल की उत्पादन बढ़ाने के लिए जो रासायनिक खाद हम मिट्टी में डालते हैं उसका केवल 25-30 % ही पौधों को प्राप्त हो पाता है.शेष मिट्टी में जम जाता है या पानी में बह जाता है. शेष ह्यूमिक एसिड मिट्टी में अधुलनशील खाद को घोलकर पौधों को उपलब्ध कराता है. नाइट्रोजन आयन मिट्टी में जोड़ के रखता है तथा भूमि की नमी बनाये रखने में सहायक है. हृमिक एसिड का 70 % कार्य मिट्टी में होता है तथा 30 % कार्य पत्तियों पर होता है. इसका सबसे महत्वपूर्ण काम ये है कि ये मिट्टी को भुरभुरी करता है, जिससे जड़ों का विकास अधिक होता है। ये प्रकाश संश्लेषण की क्रिया को तेज करता है, जिससे पौधे में हरापन आता है और शाखाओं में वृद्धि होती है। ये पौधे की तृतीयक जड़ों का विकास करता है जिससे की जमीन से ज्यादा पोषक तत्व मिल सके। पौधे में फलों और फूलों की वृद्धि करता है। मिट्टी को उपजाऊ बनाए रखता है। पौधे की चयापचयी क्रियाओं में वृद्धि करता है। उपज में भी वृद्धि होती है।

ह्यूमिक एसिड के लाभ (humic acid benefits in hindi)

  • इसका सबसे महत्वपूर्ण कार्य मिट्टी को भुरभुरी बनाना है जिससे जड़ों का विकास अधिक हो सके.
  • ये प्रकाश संलेषण की क्रिया को तेज करता है जिससे पौधे में हरापन आता है और शाखाओं में वृद्धि होती है.
  • पौधों की तृतीयक जडों का विकास करता है जिससे की मिट्टी से पोषक तत्वों का अवशोषण अधिक हो सके.
  • पौधों की चयापचयी क्रियाओं में वृद्धि कर मिट्टी को उपजाऊ बनाए रखता है.
  • पौधों (humic acid for plants) में फलों और फूलों की वृद्धि कर फसल की उपज को बढ़ाने में सहायक है.
  • बीज की अंकुरण क्षमता बढाता है तथा पौधों को प्रतिकूल वातावरण से भी बचाता है.
  • पौधों की बढ़ती अवधि के दौरान कार्बनिक उत्प्रेरक के रूप में कार्य करना।
  • मिट्टी में प्रजनन और फायदेमंद सूक्ष्मजीवो के विकास को प्रोत्साहित करना।
  • रोगों और कीड़ों से लड़ने की फसल की क्षमता में सुधार।
  • पौधों में खनिज पदार्थों और विटामिन की प्रतिशतता में वृद्धि।

गन्ने की फसल (humic acid for sugercane) में ह्यूमिक एसिड के लाभ (humic acid for sugercane)
ह्यूमिक एसिड के उपयोग से गन्ने की फसल (humic acid uses in sugercane) का अंकुरण, जमाव, कल्लों की संख्या, गन्ने की लंबाई, गन्ने का भार और गन्नों की संख्या और प्रति हेक्टयर पैदावार में वृद्वि होती है।

गन्ने की फसल में लाटू (humic acid granular) का उपयोग (laatu uses in sugercane) कैसे करें : खेत में 4 किलोग्राम / एकड़ (humic acid dosage) के हिसाब से फसलों की किसी भी अवस्था में जड़ क्षेत्र में लगायें या बुरकाव कर पीछे से पानी से सिंचाई कर जमीन के अंदर जाने दें। नर्सरी की क्यारी में: 4 किलोग्राम / एकड़ (humic acid dosage per acre)के हिसाब से बुरकाव कर पानी से सिंचाई कर जमीन के अंदर जाने दें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.